तुर्की के राष्ट्रपति तैयब एर्दोगान बयान पर घिरे कहा- पैगम्बर का अपमान करने वालों की जीभ काट दूंगा…

तुर्की के राष्ट्रपति तैयब एर्दोगान देश की पॉप आइकन सेजेन अकसु को लेकर दिए गए एक बयान को लेकर आलोचना झेल रहा है। एर्दोगान का कहना है कि सेजेन अकसु ने अपने गाने के माध्यम से इस्लाम के पवित्र मूल्यों का अपमान किया है।

तुर्की के नोबेल विजेता ओरहान पामुक ने भी एक कलाकर के प्रति एर्दोगान के रुख की आलोचना की है।

तुर्की के Ahval News की एक रिपोर्ट के मुताबिक67 वर्षीय सेजेन अकसु को सरकार समर्थित लोगों से भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। विरोध 2017 के उनके गाने को लेकर है।

जिसके लिरिक्स में एडम और ईव का जिक्र है। अकसु पर आरोप है कि गाने के माध्यम से उन्होंने इस पवियर जोड़े का अपमान किया है। उन्हें अज्ञानी भी बतयः है।

एर्दोगान को अकसु की आलोचना करते हुए कहा है कि इस्लामी शिक्षाओं के मुताबिक पहले पैगम्बर का अपमान करने वाले किसी भी व्यक्ति की जीभ काटना उनका कर्तव्य है।

जोलोग भी इन्हें आदर नही देंगे। उन्हें उनकी सही जगज भी दिखाई जाएगी।
उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा कि तुर्की के राष्ट्रपति का यह कहना है कि वो कलाकार की जीभ काट देंगे।

बता दे कि पिछले हफ़्तों के दौरान अकसु परएक क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है। इसके बाद से ही इस्ताम्बुल में स्थित उनके घर के सामने विरोध प्रदर्शन भी जारी है।

Leave a Comment