हमारे नबी की इस सुन्नत को अमल करने से बची शख्स की जान, हर मुसलमान को पढ़ना चाहिए यह सच्चा वाकिया

इंसान चाहे दुनिया के किस भी कोने में  अपनी मौत को लेकर छुप जाए लेकिन वह मौत से नही बच सकता। हर दिन हर इंसान को मौत का मचा चखना है।
जिसको मौत आनी है उसको हर हाल ही में आती है और जिसकी जिंदगी को अल्लाह बचाना चाहता हो उसे कोई नही रोक सकता।

एक मामले ठीक ऐसे ही पेश हुआ एक शख्स एक  गोश्त को फ्रिज करने वाली कम्पनी में काम करता था। एक दिन कारखाना बंद होने से पहले अकेला गोश्त को फ्रिज करने वाले कमरे का चक्कर लगाने गया तो गलती से दरवाजा बंद हो गया।

छुट्टी का वक्त था सभी लोग कम करके घर जा रहे थे। किसी ने भी ध्यान नही दिया कि अंदर कोई फंस गया है। वह समझ गया कि दो तीन घण्टे बाद उसका बदन बर्फ बन जाएगा। अब उसको मौत यकीनी आएगी।

वह अपने गुनाहों की माफी मांगने लगा उसने खुदा से कहा कि यूनुस अलैहिस्सलाम को मछली के पेट से और यूसुफ अलैहिस्सलाम से जेल की निजात देने वाले ए अल्लाह मेरी जिंदगी को बचा दे।

 अचानक से 2 घण्टे ही गुजरे थे कि बाहर से खट ख़ट की आवाज आने लगी। दरवाजा खुला और चौकीदार भागता हुआ आया। उस आदमी को उठाकर बाहर निकाला और गर्म हीटर की तरफ ले गया वह आदमी थोड़ी देर के बाद सही हो गया।

चौकीदार से पूछा आप कैसे अंदर आए।उसने कहा जनाब मैं 20 साल से यही काम कर रहा हूं। इस कारख़ाने  में हजारों सैकड़ो मजदूर आते है। मैं देखता हूं कि आप जब भी आते है मुझसे हस कर सलाम करते है और मेरा हाल मालूम करते है।

जब ज्यादा देर हो गई तो मैं आपको ढूंढने के लिए निकल गया। वह व्यक्ति हैरान हो गया कि एक नेकी की वजह से उसकी जान बच गई।

Leave a Comment